भारतीय तिरंगे का गीत - कमलेश कुमार दीवान
Bhartiya Tirange Ka Geet - Kamlesh Kumar Deewan

_______________________________________________________
हरी भरी धरती हो
नीला आसमान रहे
फहराता तिरँगा,
चाँद तारों के समान रहे।
त्याग शूर वीरता
महानता का मंत्र है
मेरा यह देश
एक अभिनव गणतंत्र है

शांति अमन चैन रहे,
खुशहाली छाये
बच्चों को बूढों को
सबको हर्षाये

हम सबके चेहरो पर
फैली मुस्कान रहे
फहराता तिरँगा चाँद
तारों के समान रहे।
____________________________________________________

0 comments:

Post a Comment